SEO के क्या फायदे है ? और SEO की आवश्यकता क्यों होती है ?

आज की दुनिया में ऑनलाइन बिजनेस का बहुत बड़ा स्कोप है| हर चीज़ इंटरनेट पर उपलब्ध है| आपको अगर अपना ऑनलाइन बिजनेस चलाना है तो आपके पास वेबसाइट का होना बहुत ज़रूरी है| इसके अलावा केवल वेबसाइट का होना ही काफ़ी नहीं है, जब तक आपकी वेबसाइट की गूगल में अच्छी रैंक नहीं होगी तब तक आपकी वेबसाइट पर visitors नही आयेंगे और आप अच्छा बिज़नेस नहीं कर पाएँगे और गूगल में अपनी वेबसाइट को अच्छी पोज़िशन पर रैंक करने के लिए हमें SEO की ज़रूरत पड़ती है|


आज हर कोई ये चाहता के हम अपने बिज़नेस को ऑनलाइन करे और ऑनलाइन बिज़नेस करना भी चाइये। इसलिए के आज की दुनिया में ऑनलाइन बिज़नेस का बहुत बड़ा स्कोप है और आज हर चीज़ इंटरनेट पर उपलब्ध है ऑनलाइन बिजनेस करने के लिए सबसे पहले आपकी अपनी खुद की वेबसाइट होनी चाइये। वेबसाइट पर आपके सारे प्रोडक्ट लिस्ट होना चाइये। आपकी  वेबसाइट का होना ही काफ़ी नहीं है जब तक आपकी वेबसाइट गूगल में अच्छी तरह से रैंक नहीं करेगी आपकी वेबसाइट पर विज़िटर्स नहीं आएंगे। इसलिए आपकी वेबसाइट का seo करना बहुत जरुरी है जब आप अपनी वेबसाइट का SEO करवाओगे तब आपकी वेबसाइट गूगल और सभी सर्च इंजन में रैंक करने लगेगी फिर आपकी वेबसाइट पर विज़िटर्स आने लगेंगे और बिज़नेस होने लगेगा इसलिए SEO जरुरी है।

SEO 2 प्रकार का होता है ?

1. ON-Page SEO

2. OFF-Page SEO

ON-Page SEO

Website का on page seo जरुरी है और हम गूगल के gudieline को follow करके अपने website के सारे page करके ऐसी website बनाते है के google और users को पढ़ने में कोई problem ना हो।

Website Speed

अगर आपकी वेबसाइट की स्पीड 2 -5 सेकेंड है तो आपकी वेबसाइट की speed Fast है  मतलब आपकी वेबसाइट की स्पीड सही है वेबसाइट की स्पीड सही होने से users आपकी वेबसाइट से कही नहीं जायेगे और slow होने से users चले जायेगे। कोसिस करे की आप अपनी वेबसाइट के image की साइज कम और कोड के space को कम करे

Title Tag

Website को रैंक कराने के लिए Title Tag का होना जरुरी है Meta Title की length कम से कम 60 characters से ज़्यादा नहीं होनी चाहिए | कोशिश करें कि Title में आपका main keyword एक बार ज़रूर आए।  title में एक keywords बार -बार use ना करे ये एक spam है

Meta Description

Meta description का use करके हम गूगल को describe करते हैं Meta Description की length 160 characters से ज़्यादा नहीं होनी चाहिए। कोशिश करें कि आपका main keyword description में जरूर आए।

Keyword Density

Keyword density का मतलब है कि आपका keyword content के अंदर कितनी बार repeat हुआ है| Keyword density केवल 5% होनी चाहिए इससे ज़्यादा नहीं होनी चाइये। अगर  Keyword density ज्यादा हुई तो आपकी वेबसाइट के लिए नुकसान होगा।

Image Alt Tag

बहुत सारे लोग ये नहीं जानते है कि Image को गूगल रीड करता है या नहीं । इमेज में लगे Alt tag से ये पता करता है कि ये इमेज किसकी है| For example – अगर आपने अपनी वेबसाइट पर image लगाई और image पर alt tag लगाया तो पता चलेगा के image किसकी है और image google में index हो जाएगी।

URL Structure

 आपके post का URL SEO Friendly होना चाइये ताकि गूगल को ये पता चल जायेगे के आपके पोस्ट का url किस post से related है

Internal Links

internal link में आप अपनी ही वेबसाइट का लिंक अपने वेबसाइट के post pages पर लगाए।

Website Structure

अपनी वेबसाइट के url  को google के हिसाब से यूज़र फ्रेंड्ली बनाइए ताकि बहुत सारे लोग अपनी वेबसाइट में बहुत छोटे फ़ॉन्ट साइज़ use करते हैं|

Responsive Website

आपकी वेबसाइट Responsive होना चाइये है Responsive का मतलब होता है की आपकी वेबसाइट मोबाइल और डेस्कटॉप किसी भी device में सही से खुले। अगर आपकी responsive है  तो रीडर्स को पढ़ने में कोई दिक्कत नहीं होगी। आपकी वेबसाइट responsive है या नहीं, Responsive चेक करने के लिए आप अपने ब्राउज़र को resize करिये।

Heading tags

HTML में कुछ heading tags होते हैं। जिसे आपको अपनी website में use करना होता है Heading tag six होते है जैसे – H1, H2, H3, H4, H5, H6.

Sitemap

ये एक map होता है site map को हम xml file भी कहते है site map को वेबसाइट में लगाना होता है जब गूगल किसी वेबसाइट को read करता है तो सबसे पहले गूगल का crawler sitemap.xml नाम की फाइल को सर्च करता है।  site map होने से हमारी वेबसाइट easily crawl हो जाती है

Off-Page SEO

Off page seo में backlink पर फोकस होता है Backlinks एक तरह से वेबसाइट को सपोर्ट करता है  जितने ज़्यादा quality backlinks होंगे उतनी ज़्यादा गूगल की नज़र में आपकी वेबसाइट की reputation बढ़ेगी| 

Off Page SEO में क्या -क्या होता है ?
  1. Search Engine Submission
  2. Use Keyword in Post
  3. Bookmarking Submission
  4. Directory Submission
  5. Facebook Page
  6. Use Twitter and Hashtag
  7. Classified Submission
  8. Question & Answers -Quora, Yahoo answer और other question answer जैसी वेबसाइट्स पर भी participate करें|
  9. Blog Commenting
  10. Pinterest Photo Sharing
  11. Guest Post

Leave a Reply

Your email address will not be published.